Get Indian Girls For Sex
   

नई नवेली चूत चुदक्कड़ रीटा की - चूत मारने की कहाँनी

Sexy Indian girl in Blouse showing Big Boobs and Cleavage desi boobs pics hot boobs images Hot Indian Girls photos (13)

नई नवेली चूत चुदक्कड़ रीटा की - चूत मारने की कहाँनी

नई नवेली चूत चुदक्कड़ रीटा की - चूत मारने की कहाँनी : रीटा कान्वेंट स्कूल की अति आधुनिक विचारों वाली सैक्सी छात्रा थी। रीटा अमेरीकन माँ और भारतीय बाप की इकलौती, खूबसूरत, चिकनी दोगली औलाद थी। गोल मासूम चेहरे पर रेशमी बाल, खूब उभरी हुई कश्मीरी सेबों सी लाल लाल गालें, मोटी मोटी गीली नशीली और बिल्ली सी हल्की भूरी बिल्लौरी आँखें, रस भरे लाल उचके हुऐ मोटे होंट जैसे लॉलीपोप को चूस्सा मारने को लालयित हों।

स्केटिंग रीटा की मनपसंद गेम थी। इससे रीटा का बदन भरपूर सुडौल और कड़ियल हो गया था। इस छोटी सी उमर में ही रीटा का गोरा चिट्टा तन्दरूस्त बदन हद से ज्यादा गदरा गया था। मलाई सी त्वचा, मक्खन में सिन्दूर मिला रंग, लम्बी पतली गर्दन, खड़े खड़े तराशे चुच्चे, पतली कमर, पिचका पेट, हीरे सी चमकती खूब गहरी नाभि, दायें बायें फैले कूल्हे, गोल गोल उभरे भारी चूतड़ और लम्बी सुडौल मरमरी टांगें। कुल मिला कर रीटा ताज़ी ताज़ी जवानी के भार से लदी फदी टना टन और पटाका लौंडिया थी।

रीटा की तूफानी और कातिल जवानी की खूबसूरती का कोई हिसाब किताब नहीं था। हसीन रीटा के हुस्न और कयामत जवानी ने स्कूल और मुहल्ले में गद़र मचा रखा था। हर एक जवान रीटा पर लाईन मारता था। पर रीटा ने जगह जगह पर अपनी शराफत के झन्डे गाड़ रखे थे। जिधर से एक बार निकल जाती लड़के पप्पू पकड़ कर हाय हाय कर उठते थे। मैग्ना फोक्स, पामेला एम्डरसन, कैटरीना कैफ, लिज़ा रे और ऐश्वर्या राय की जवानी तो रीटा की झाँट की धूल के बराबर भी नहीं थी, वो बात अलग है कि 18 साल की रीटा की नादान कच्ची चूत पर रोंये का नामो निशान भी नहीं था। अभी तक नादान और अंगूठा चूसने वाली रीटा टैडीबियरों से ही खेलती रही थी। अभी तक बेचारी रीटा की नादान चूत मूतने के ही काम आ रही थी।

कुछ दिन पहले ही नई नई जवान हुई रीटा अपनी नई सहेली मोनिका से खूब घुलमिल गई। मोनिका जी भर के हसीन और दिलफेंक छोकरी थी। मोनिका बहुत शरारती थी और कभी भी स्कर्ट के नीचे कच्छी नहीं पहनती थी। मोनिका हमेशा अपनी चूत पर हल्का सा रूज़, लिपस्टिक और लिपग्लॉस का मेककप करके चूत पर चार चाँद लगाये रखती थी। मोनिका ने अपनी चूत को मक्खन और मलाई की मालिश कर के और भी हसीन और कातिल बना लिया था।

मोनिका स्कूल में क्लास, लाईबरेरी, स्कूल बस और मुहल्ले में अपनी नंगी चूत का हुस्न दिखा दिखा कर लड़कों को पागल बनाने और पटाने में उस्ताद थी। दिन में न जाने कितनी बार शरारती मोनिका अपने जूतों के फ़ीते बांधती और अलग अलग पोज़ बना बना कर लड़कों को अपनी नन्ही चूत से लिशकारे मार मार कर दीवाना करती रहती थी। लड़के गली के ठरकी कुत्तों जैसे मोनिका के आगे पीछे घूमते रहते थे। मोनिका की कटी पतंग सी जवानी को लूटने के लिये न जाने कितने लण्ड मोनिका के चारो तरफ मंडराते रहते थे।

बेटा मुझे चोद कर दूध का कर्ज उतार दे मेरी रंडी माँ बोली और दबा कर चुदवाया

एक दिन अकेले में मोनिका ने रीटा को घर बुला कर जब ब्लयू फ़िल्म दिखाई तो बेचारी नन्ही रीटा का तो दिमाग ही घूम गया। रीटा के लिये यह सब कुछ एकदम नया और बहुत ही मजेदार था। मोनिका ने अपने पसंदीदा दृश्य रीटा को रीवाईन्ड कर कर के दिखाये तो रीटा ने अपना सिर पकड़ कर सोचा- तौबा तौबा, ये लड़कियाँ कितनी गुन्डी गुन्डी बातें करती हैं, और ये मर्द कितनी बुरी तरह से सुन्दर सुन्दर लड़कियों को चोदा मारते हैं। ये बेशरम छोकरियाँ इत्ती बुरी तरह से मस्त होकर अपनी चूत और गाँड मरवाती हैं।कितने स्टाइल से परी सी विलायती छोकरियाँ लड़कों के केले से लम्बे लम्बे लण्डों को चुसड़-चुसड़ कर के चुस्सा मारती हैं और पलक झपकते लण्डों को अपनी गोरी-गोरी चूत और गाड में आसानी से सटक लेती हैं।

तब मोनिका ने बताया कि वह चंगे चंगे तगड़े लन्डों को अपनी टांगों के नीचे से निकाल कर उन्हें धूल चटा चुकी थी। इसलिये रीटा की चूत के मुकाबले में चुदक्कड़ मोनिका की चूत फूल सी खिली हुई सी मालूम पड़ती थी। मोनिका की चूत पर दिलकश छल्ली से सुनहरे कोमल और छितराये से झांट थे। मोनिका ने बताया की उसे अकंल लोगों और अपने से छोटे लड़कों के साथ छुप छुप कर चौदम-चुदाई का खेल खेलने में बहुत मजा आता है। कमीनी मोनिका हर महीने नये आशिक से चूत मरवाती थी। मोनिका ने बताया कि अब तो वह दस ईंच से कम लण्ड वाले को घास भी नहीं डालती।

फिर ब्लयू फ़िल्म देखने के बाद मोनिका ने रीटा से उलटी सीधी बेहूदी हरकतें शुरू कर दीं। शुरू शुरू में रीटा को मोनिका की गुन्डी हरकत पर बहुत गुस्सा आया, पर बाद में जब शातिर मोनिका ने रीटा की टांगों को चौड़ा कर जबरदस्ती रीटा की चूत को आम की गुठली की तरह चूसा तो रीटा मोमबत्ती सी पिघलती चली गई। मोनिका अपनी सांप सी लम्बी लपलपाती जीभ से रीटा की चूत को चाटने और चोदने लगी। कभी कभी मोनिका अपना मुँह टेढा कर रीटा की रसीली फांक दांतों में दबा कर जोर जोर से चूस कर रीटा की ना नाऽऽ करवा देती थी।
मोनिका के लाल लाल नेलपालिश से रंगे हुऐ नाखून रीटा के गोरे गदराये हुऐ चूतड़ों में धंसे हुए बड़े मोहक लग रहे थे। नाखूनों की तीखी चुभन भी रीटा को अजीब सा मजा दे रही थी। यह कहानी आप अन्तर्वासना.कॉंम पर पढ़ रहे हैं।

अब रीटा का इंकार इकरार में बदल गया। तब रीटा के हाथ अपने आप मोनिका की खोपड़ी पर कस गये और अब तो रीटा का दिल कर रहा था कि वह मोनिका को पूरा का पूरा अन्दर सटक ले। रीटा को लगा जैसे मोनिका का मुँह वैक्यूम पम्प बन गया हो।
जब मोनिका दांतों से रीटा की चूत नौचने लगी तो रीटा मजे से पागल हो उठी और बेशरमी से अपनी टांगों को 180 डिगरी पर फ़ैला दिया। बेहया मोनिका के दांतों की कचोटों ने तो रीटा को जन्नत में पहुँचा दिया।

अन्त में ठरक से बदहवास और पगलाई हुई रीटा मोनिका को पलंग पर पटक कर उसके चेहरे को उछल उछल कर अन्धाधुन्ध अपनी मस्त चूत से पीटने लगी। रेशम सी मुलायम और गुदाज़ चूत की मार से एक बार तो मोनिका जैसी हिंसक चुदक्कड़ लड़की की भी सिट्टीपिटी गुम हो गई। धक्कों से, झटकों से रीटा के रेशमी बाल हवा में उड़ उड़ जाते थे और चुच्चे ज़ंगली जानवरों की तरह ऊपर-नीचे, दायें बायें उछल जाते। मोनिका का सुन्दर चेहरा रीटा के जवानी के रस से तरबतर हो गया। कुँवारी रीटा की दबी दबी आनन्द भरी सुरीली चीखें, कराहटें और सिसकारियाँ सुन मोनिका और भी पागल हो गई।


चुदाई कला में निपुण़, वहशी मोनिका ने जंगली बिल्ली को काबू करने के लिये जवाबी हमले में रीटा की गाँड में अपनी थूक से सनी उंगली घुसेड़ कर गोल-गोल घुमाने लगी और चूत के दाने को होठों तले दबा कर जीभ से उस पर चुम्मा करने लगी तो रीटा का बैंड ही बज गया।
रीटा की चीखों और तेज़ी से मोनिका समझ गई कि बस अब लौंडिया खल्लास ही होने वाली है। फिर तो रीटा की बदन कमान की तरह अकड़ गया, आँखें ऊपर की ओर लुढ़क गई और कई छपाकों के साथ रीटा की नई नवेली चूत भरभरा कर झटकों के साथ हुच्च हुच्च कर पानी छोड़ने लगी। चूदास मस्ती से भाव-विभोर हुई रीटा की चूत से रह रह कर आनन्द का करंट निकल कर सारे शरीर में धमाकों के साथ फैल रहा था।

उधर मोनिका रीटा की चूत से कतरा कतरा जूस कचकचा कर पीने की नाकाम कोशिश कर रही थी पर रीटा की चूत तो जैसे हमेशा हमेशा के लिये बाल्टियाँ भर भर कर छपाक छपाक पानी फैंके जा रही थी। दे रेले पे रेला, दे रेले पे रेला।
रीटा की चूत की पिचकारियों ने मोनिका के बालों और बिस्तर की चादर को एकदम भिगो दिया। चुदी हुई कुतिया की तरह हांफती, कांपती हुई और करहाती सी निठाल हो रीटा मोनिका के ऊपर लुढ़क गई।
मोनिका ने तो अभी खेल चालू किया था। मोनिका ने जबरदस्ती तितली सी फड़फड़ाती रीटा के चूतड़ों को टेबल टेनिस के बैट से ताबड़तोड़ पीटा तो रीटा भी हिंसक चुदाई में विश्वास रखने लग पड़ी थी। पटाक-तड़ाक, पटाक-तड़ाक की चूतड़ों पर बैट टकराने की ऊँची आवाज़ और गाँड पर मीठी मीठी जलन ने तो रीटा को पागल कर दिया। फिर तो मस्ती में आकर रीटा ने अपनी जालिम गोरी-गोरी गाँड को हवा में ओर भी ऊपर उचका दिया।
मोनिका गालियाँ देती हुई रीटा के मलाई से चूतड़ों को पीट पीट कर गुलाबी से लाल और लाल से सुर्ख कर दिये तो रीटा को थोड़ी तसल्ली मिली।
फिर छीनाल मोनिका ने रीटा की चूत और गाँड को एक बार फिर से कोल्ड क्रीम चुपड़ कर छः ईंच के बैंगन से जबरन चोद दिया तो रीटा को दिन में तारे नज़र आ गये।

नई नवेली चूत चुदक्कड़ रीटा की - चूत मारने की कहाँनी