Get Indian Girls For Sex
   

(मैंने उसे किस करना शुरू कर दिया. वो भी मेरा साथ दे रही थी.. यहाँ मामी ने मेरा लंड चूस – चूस कर तना दिया था.. वो अहहहः अहहाह ऊऊओह्हह्हह की आवाज़े करने लगी.)

10945559_694969730620665_3242114254711970989_n

एक बार, मेरे मामा ने घर पर छोटा सा फॅमिली गेट-टू-गेदर किया. उसमे सब आये थे और जैसे मैंने बताया, कि मामी के घर में सिर्फ ४ लोग रहते थे.. मैं, मामा, मामी और उनका लड़का. वीकेंड था और हमें दिन में ही फंशन कि तैयारी करनी थी. मामी को अब मेरे लंड कि आदत बन गयी थी. वो हफ्ते में मुझसे एक बार जरुर चुद्वाती थी. छुट्टी का दिन था और मामी की पिंक मख्खन जैसी मुलायम चूत में चुदाई की आग लगी थी और वो उसे बुझवाने के लिए बड़ी ही बेताब थी. इसलिए, मामी ने प्लानिंग की, रात में चुदाई का प्रोग्राम होगा.

उन्होंने मुझे भी बता दिया, कि प्लान क्या है और रात को सब के जाने के बाद, कहाँ और कैसे चुदाई का प्रोग्राम करना है. दिन भर तैयारी के बाद, रात हुई और सब आना शुरू हो गये. उससे मामी की बहन भी थी. उसका नाम था अमरीन और उसकी उम्र २९ साल थी. वो रात ९ बजे आई. क्या मस्त ही वो.. मैं तो उसे देख कर पागल सा ही हो गया. उसे देख कर मेरा लंड एकदम से तन गया. उसका फिगर एकदम कर्वी था.. बूब्स थे लगभग ३८ और कमर ३० की और गांड भी लगभग ४० की थी. ओवरआल शी हेज वैरी सेक्सी फिगर. मैंने ने उन्हें सब कुछ बताया था. कि कैसे हम दोनों ने मस्त चुदाई की और वो भी कुछ कम नहीं थी. उन्हें भी चुदाई का मज़ा मालूम था.

वो ब्लैक कलर की साड़ी और लो कट ब्लाउज पहनी थी. वो मैरिड थी, मगर अब भी बहुत यंग लगती थी. जैसे ही वो आई, उन्होंने मुझे लालच भरी नजरो से देखा. हम सबने डिनर किया और सब खाने – पीने के बाद ड्राइंगरूम में आये और बातें करने लगे. बातें काफी देर तक चली और रात के १२ बज गये थे. सब जाने लगे और आखिर सब चले गये. मामी की बहन अभी रुकी हुई थी. उसका हसबैंड अभी नहीं आया था. मामा ने उन्हें कहा, कि वो आज की रात वहीं रुक जाए. वो भी यहीं चाह रही थी, इसलिए उसने हाँ कर दी और अपने पति को आने के लिए मना कर दिया. मामी तो बड़ी खुश थी और बोली – दीदी, आज बहुत मज़ा आने वाला है. ये कह कर दोनों बहने मुझे देख कर मुस्कुराने लगी. उन दोनों की आँखों में अजीब सी चमक थी. उनके सोने का बंदोबस्त, मामी ने अपने रूम में किया और मामा को कहा, कि वो ओमर, उनके लड़के के रूम में सो जाए. मामा बहुत थके हुए थे और झट से मामी की बात मान ली और सोने चले गये. मामा ने जैसे ही अन्दर से रूम लॉक किया, मामी ने मुझे इशारा किया, कि आज वो दोनों मुझसे चुदवाना चाहती है.

मैं भी बहुत खुश हो गया और जल्दी से चेंज करके हॉल में आ गया. दोनों बहने भी नाइटी पहन कर हॉल में मेरा इंतज़ार कर रही थी. हमने कन्फर्म किया, कि मामा सो गये है कि नहीं? फिर हमने उनके रूम को बाहर से लॉक कर दिया. अब क्या था.. मैं तो ख़ुशी के मारे फुला नहीं समां रहा था. तभी मामी की बहन ने पहले मेरी टीशर्ट उतार दी और गले लग गयी. मैं भी उनसे लिपट गया और मामी ने मेरी पेंट उतार दी. वो मेरे लंड से खेल रही थी और मैंने भी मामी की बहन की नाइटी ऊपर कर दी और क्या देखा, उसने अभी ब्रा और पेंटी नहीं पहनी हुई थी. क्या मस्त चूत थी.. उसकी चूत पर छोटे – छोटे बाल थे, जोकि बहुत ही सेक्सी तरीके से काटे हुए थे. मैंने उसे किस करना शुरू कर दिया. वो भी मेरा साथ दे रही थी.. यहाँ मामी ने मेरा लंड चूस – चूस कर तना दिया था.. वो अहहहः अहहाह ऊऊओह्हह्हह की आवाज़े करने लगी.

मैंने मामी की बहन को डौगी स्टाइल में होने को कहा और मैंने उसकी चूत पर हाथ फेरा. इधर मामी भी गरम हो चुकी थी. मैंने मामी को सोफे पर अपनी टाँगे फैला कर बैठने को कहा और अमरीन को उनकी चूत लिक करने को कहा. मैंने एक झटका लगाया और मेरा लंड फिसल गया. मैंने चूत पर थोड़ा थूक लगाकर फिर से झटका मारा, मगर लंड अमरीन की टाइट चूत में जाने का नाम ही नहीं नहीं ले रहा था. तभी अमरीन ने कहा – कहीं ये तो वजह नहीं है, कि मैं अब तक माँ नहीं बन पा रही हु. मैंने बोला – मतलब, आपके हसबैंड आपकी ठीक से ठुकाई नहीं करते? वो बोली – हाँ, बस वो अपने को सेटइसफाई करवा लेते है मुझसे अपना लंड चुसवा कर और जल्दी झड जाते है. मैंने बोला – ये तो बहुत बड़ा क्राइम है. एक हॉट सेक्सी सी बीवी को कैसे प्यासा रख सकते है. फिर मैं बोला – आज मैं आपको सैटइसफाई करूँगा और मैंने आयल लिया और थोड़ा अपने लंड पर मालिश किया और थोड़ा उनकी चूत पर लगाया और मेरा लंड उसकी चूत के मुह पर सेट किया और एक जोरदार धक्का मारा. वो एकदम से तड़प उठी और चीख मार दी.

ऊऊऊऊईईइम .. मरर्र्र्रर्र्र्रर्र् र्रर्र गयीईईईईईई… मेरी चूत फाड़ दी तुमने.. मैंने उसके मुह में अपनी उंगलिया घुसेड दी और उनकी आवाज़ कम की थोड़ी सी. मैं ऐसे ही रुक गया और थोड़ी देर बाद, फिर से एक जोरदार झटका लगाया और सारा लंड उनकी चूत में डाल दिया. वो चीख उठी और गलिया बकने लगी. भडवे.. हरामी.. और मस्त सिस्कारिया निकाल रही थी. मैं रुका नहीं और उनको चोदता रहा. वो ऊऊऊऊईईईईइमा ह्ह्हह्ह्ह्ह फक मी.. फक मी हार्ड की आवाज़े निकाल रही थी. फिर वो खुद-बा-खुद अपनी गांड हिला रही थी और मेरा साथ दे रही थी. फिर वो पलटी और मेरा लंड चूसने लगी. इधर मामी कि चूत दो बार अपना पानी छोड़ चुकी थी. अब मैंने मामी की चूत को चुसना शुरू किया और थोड़ी देर बाद, अपना लौड़ा उनकी चूत पर रखा और चुदाई चालू की. सारे हॉल में बस हमारी आवाज़े गूंज रही थी.. अहह्ह्ह अहहहः हहहः .. ऊऊओह्हह्हह फक मी… मी … अहहहः…

१० मिनट तक मामी को चोदने के बाद, मैं भी झड़ने वाला था. मैंने दोनों सलमा मामी और उनकी बहन अमरीन को नीचे लिटाया और लंड का सारा पानी उनके बूब्स और फेस पर मार दिया. वो दोनों मेरे लंड को सक कर रही थी और एक दुसरे के बूब्स को चूस रही थी. फिर मैं रात भर उन्दोनो चोदता रहा और दोनों को सैटइसफाई किया…