Get Indian Girls For Sex
   

Glamour Gorgeous Hardcore nude sucking cock and fucking sex gallery12

हाई दोस्तों, कॉलेज खतम होने के बाद मुझे काम की तलाश थी, काम जल्दी नही मिल रहा था और दिन पे दिन पेसो की कड़की छ रही थी | फिर एक दिन मुझे इंटरव्यू के लिए फोन आया सो मेरे शहर से वो करीब पाँच घंटे का रास्ता था ट्रेन से जहा पे मुझे जाना था | दूसरे दिन में वहा के लिए निकल पड़ा, और ट्रेन के एक बोगी में घुस गया | ट्रेन में काफी भीड़ थी तो मुझे दरवाजे के पास ही खड़े होने का मोका मिला और में वही खड़े खड़े जाने लगा | कुछ देर के बाद एक स्टेशन आई और वहा से एक औरत चडी और ठीक मेरे सामने खड़ी हो गयी, भीड़ काफी होने के कारण हम दोनों चिपक के खड़े हुए थे, उसके शारीर से मेरे शारीर दबने लगा | मेरी कोणी उसके चुचो को बार बार छू रही थी और में धीरे धीरे गर्म हो गया, फिर एक और स्टेशन आया और वहा पे लोग जितने उतरे नही उससे और जादा लोग चड गए थे | अब तो पैर भी थक से रखने की जगह नही बची | में थोडा सा साइड हो गया ताकि मेरा लंड उसके हाथ से तकरे भीड़ में धक्को के कारण और कुछ देर के बाद मेने जेसा सोचा वेसा ही हुआ | भीड़ के कारण धक्का लगने लगा और मेरा लंड एक दम टाईट हो गया और उसके हाथ से टकराने लगा बार बार, मेरा पूरा लंड अब उसके हाथो से लग रहा था | वो आंटी बड़े घर की लग रही थी और उनकी उम्र ४५  की होगी, और एक दम सेक्सी फिगर था उनका और रंग भो एक दम गोरा और चुचे भी बड़े बड़े थे |अब जेसे जेसे ट्रेन चलने लगी और धक्के लगने लगे उसे मेरा लंड अब महसूस होने लगा और अब मुझे भी लग रहा था की उसे भी अच्छा लग रहा हे, वो भी अब गर्म होने लग गयी थी | अब वो भी जान बुझ के मेरे लंड पे हाथ फेरने लगी थी और हम एक दूसरे एक आँखों में झांक रहे थे | अब में समझ गया की मेरा पत्ता साफ़ हे, और में भी यहाँ वहा हाथ उठाने के बहाने उनके चुचो को बार बार छु रहा था और दबा रहा था अब तो वो भी मेरा साथ देने लगी थी चुचो को दबवाने में, मैं फिर हाथ निचे कर के उनके चुत को भी छू दे रहा था | हम दोनों को बहुत मज़ा आ रहा था और फिर हम दोनों ने बहुत सारी बात भी की, फिर उन्होंने मेरा नो. और नाम ले लिया और फिर हम बात करने लग गए | कुछ देर के बाद उनका स्ततिओं आ गया और वो उतर गयी और में अपने स्ततिओं की और बड गया | मैं अपने इंटरव्यू के लिए गया और फिर इंटरव्यू दिया, मैं रिजेक्ट हो गया था और मुह लटका के वापस आ रहा था, चार बजे के आस पास मुझे उनका फोन आया और फिर हमने यहाँ वहा की बात की और उन्होंने मेरे बारे में सब कुछ पूछा मेने उनका बता दिया की मेरी अब क्या हाल हे और पेसो की कड़की चल रही हे | वो मेरी प्रोब्लम को जल्द ही समझ गयी और फिर मेरे साथ धनदो वाली बात करने लग गयी और बोली की देखो अगर आज रात को तुम मुझे खुश कर दोगे तो में तुम्हे पाँच हज़ार रुपे दूंगी | उनके पती काम से बाहर गए हुए थे और वो आज अकेली थी घरपे और बोली की आज का ही नही जब भी तुम्हे पेसो की जरुरत पडेगी तुम मुझे खुश कर देना |मैं उनकी बात मन गया और फिर में उनसे मिलने के लिए बिच स्टेशन पे ही उतर गया, और फिर वो मुझे लेने के लिए आई और फिर हम एक गार्डन पहुच गए और फिर वहा पे पहुच के एक दूसरे से बात की और उन्हें मेने अपने बारे में सब कुछ बता दिया | फिर वो बोली की अबसे तुम पेसो की चिंता मत करना तुम बस मुझे खुश रखो और में तुम्हारी हर जरूरत पूरा करुँगी | हम फिर रात का  खाना खा के घर पहुचे और घर तो उसका किसी महल से कम नही था | उसने सब नोकरो को छुट्टी दे दी थी, मई वही सोफे पे बैठा था फिर वो बोली जा के फ्रेश हो जाओ | में नहाने चला गया, मेरे पास दूसरे कपडे भी नही थे इसीलिए में नंगा नहाने लग गया और बाथरूम का दरवाज़ा भी खुल्ला ही छूट गया मुझसे | थोड़ी देर के बाद वो भी आ गई और उसने भी अपने सरे कपडे उतार दिए और मेरे साथ बाथ टब में घुस गयी | वो मेरे उपर लेती हुई थी और मेरे होठो को चूम रही थी, मेने भी उसे कस के दबोच लिया और चूमने लगा, क्या बड़े बड़े चुचे थे उसके | मैं उनके चुचो को अपने हाथो में लेके दबाने लग गया और करीब पन्द्रह मिनट तक उसके चुचो को दबाता रहा और मसलता रहा |फिर धीरे धीरे मैं उसकी गांड में ऊँगली करने लगा तो वो बोली की मेरी गांड चाटो, तो में टब से निकल के बाहर आ गया और फिर वो भी बाहर आ गयी | वो बाहर आके झुक गयी टब को पकड़ के और में उसके पीछे गुत्नो के बल बैठ गया और फिर उसकी गांड खोल के उसकी गांड में जीभ फेरने लगा | उसकी गांड और चुत एक दम साफ़ थी एक छोटा सा बाल भी नही था | मैं फिर गांड से होता हस उसकी चुत पे भी जीभ फेरने लगा तो वो पलट गयी और फिर सामने लेट गयी बाथरूम में और फिर मुझे चुत चाटने का इशारा दिया तो फिर में उसकी चुत पे भी जीभ फेरने लग गया, चुत के उपर फेरते फेरते मेने उसकी चुत को खोला और फिर उसकी चुत के अंदर जीभ डाल दी और कस कस के जीभ रगड़ने लग गया | मेने उसकी चुत के छेद में भी जीभ को जोर से धक्का दिया तो वो भी हल्का सा अंदर गया और में उतना ही बार बार अंदर बाहर करने लगा | करीब आधे घंटे तक मेने उसकी चुत में जीभ फेरा और मुझे बहुत मज़ा आ रहा था उसकी चुत चाटने में | फिर उसने मुझे धक्का दिया और फिर में लेट गया और फिर वो मेरे लंड को पकड़ के अपने मुह में ले ली और उसे चूसने  लगी में तो जेसे आसमन में उड़ने लग गया था, दस मिनट बाद में उनके मुह में ही झड गया | वो मेरा सारा पानी पी गयी, में तो यह सोच रहा था की ४५ उम्र की औरत इतनी बडिया सेक्स कर लेती हे ऐसा मेने पहली बार देखा था और हम फिर करीब एक घंटे तक बाथरूम में ऐसे ही लंड चुत के साथ मस्ती करते रहे और फिर नहा के बाहर आ गए |में उसके कमरे में चला गया और वो किचन में नंगी चली गयी और फिर दो बीअर ले आई और साथ में कुछ नास्ता भी लेके आई | हम दोनों ने फिर मिल के बीअर पिया और नास्ता किया और फिर मेने फिरसे बीअर ली और उसके चुचो पे डाल दिया और थोडा उसके पेट पे भी गिरा दिया | उसके बाद उसके चुचो पे जितना भी बीअर लगा था में उनको चाट चाट के साफ़ किया और मुझे तो अब और भी मज़ा आ रहा था उसके चुचो को चाटने में | उसके बाद मेने उसको लेटा दिया और फिर उसकी चुत पे भी बीअर गिरा दिया और फिर उसकी चुत में जितने बीअर लगे थे उनको चाट चाट के पीने लग गया और वो अह्हह्ह कर के सिसकिय भरने लग गयी और मजे लेने लग गयी, उसने फिर कहा इस तरह पहली बार में सेक्स करने जा रही हूँ, तुम तो बहुत अच्छे हो और उससे भी अच्छे तरह से चोदना जानते हो अह्ह्ह्ह्ह्ह मजा आ गया अब अपना लंड डालके इस चुत की प्यास बजाओ | फिर वो अपने पैर फेला दी और मेने अपना लंड जोर से उसकी चुत में डाल दिया अह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह काकरे वो हल्की सी चीखी और बोली जरा हल्के से करो बहुत दिनों से लंड नही गया हे |मेने अब लड़ को आगे प्सिहे करने लगा और वो अह्ह्ह्ह्ह्ह करके सिसकिय लेने लग गयी | मेने उनको जम के चोदा और फिर मेने थोड़ी दे बाद उसको कुतिया बनाया और अपना लंड पीछे से उसकी चुत में डाला और छोड़ने लगा, क्या मस्त आवाज़ आ रही थी जब में उसे चोद रहा था अह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह. और इस तरह पूरी रात हमने मजे लिए उसने करीब पूरी रात में पाँच बार मेरा पानी पिया | वेसे सुबह उठ कर मुझे लगा की वो जो मुझे पाँच हज़ार रूपये देने वाली हे पूरा वसूल कर के ही छोड़ेगी | फिर सुबह उठकर हम दोनों ने फिर से नहाया और बाथरूम में एक और बार खेला और फिर जाते समय उसने मझे दस हज़ार रूपये दिए और बोली की मेरी प्यास तुमने सच में खतम कर दी और पहली बार में ऐसी चुदी हूँ |